Tuesday, October 20, 2009

मेरे ब्लाग के 155 पोस्ट पूरे हूवें

आज मेरे ईस ब्लाग के 155 पोस्ट पूरे हो गैं।

वैसे तो ईस ब्लाग के 200 पोस्ट कब के पूरे हो गै थे पर मैने ये ब्लाग डिलीट कर दिया था और बाद मे फिर से ईस ब्लाग को मैने बनाया जिसकी वजह से 110+ लेखों को वापस नही ला सका :) और सभी कमेंट(900+) भी रिकवर नही हो पाएं :)


और यही नही जहां मेरा पेजरैंक ३ था वो 2 हो गया था और जिरो होने ही वाला था पर धीरे धीरे फिर से पेजरैंक 3 हो गया।


एक समय एसा भी आया था जब मैने ब्लाग को बंद कर दिया था और 4 - 7 महीने बाद जब मैने वेबहोस्टिंग साईट खोला तब फिर से ब्लागींग शुरु कर दिया।

2 comments :

Shastri JC Philip said...

बधाई हो बधाई!!

लगे रहो, जल्दी ही 500 का आंकडा पार कर जाओगे!!

सस्नेह -- शास्त्री

हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है
http://www.Sarathi.info

Gopal Keshnya said...

हिन्दी हमारी जान है
हिन्दी देश की पहचान है
हिन्दी भाषा से बंधा है भारत
हिन्दी ही हमारी शान है
हिन्दी को आवश्यता है हिन्दी पृचार करने वालो की
गोपाल केशन्या खंडवा म.पृ.

Related Posts with Thumbnails