Tuesday, March 17, 2009

मिल गया हिन्दी ब्लाग एग्रीगेटर का स्क्रीप्ट

कई सालो से ये सोच रहा था की आखीर ब्लागवाणी और चिट्ठाजगत बना कैसे है??
सिर्फ मै ही नही और भी लोग हैं जो ये जानने की कोशीस मे लगे हैं और नाकाम हो रहे हैं।

पर आज मूझे ब्लाग एग्रीगेटर का स्क्रीप्ट मील गया है और बहुत बढीया भी है।

अभी मैने उसमे फिड डाले के देखा तो हिन्दी का साईट एसा ?????????? दिख रहा था।
और सब ठीक है।

ये ब्लागवाणी बाबा जैसा हाईफाई तो नही है पर काम चलाने लायक है यानी और सब खूद से करना पडेगा
जैसे यूजर नेम "पंजीकरण" का सूविधा डालना और उनहे कैटेगरी मे बाटना बहुत मूस्कील होगा।

अब पता चला है की किसी साईट की गलतीयां नीकालना कितना आसान है और उसे करना कितना मूसकील होता है।


दिल से ढूंढो तो भगवानी भी मील जाते हैं ये तो एक स्क्रीपट था :)

अब अगले महीने आता हूं और फिर उस स्क्रीप्ट को ईडीट करने के बाद लौंच करूंगा :)))

5 comments :

Anil said...

मुबारक हो! अब ब्लागवाणी, चिट्ठाजगत और नारद के साथ साथ कुन्नूजगत भी जुड रहा है! :)

आपकी स्क्रिप्ट का इंतजार रहेगा!

हिमांशु । Himanshu said...

मुबारक हो |

"मुकुल:प्रस्तोता:बावरे फकीरा " said...

Bhai wah
lalbujhakkad ji

Ratan Singh Shekhawat said...

बहुत बहुत मुबारक हो |

बालसुब्रमण्यम said...

हिंदी की जगह ???? आने का एक कारण charset utf-8 पर सेट न किया गया होना हो सकता है। यूनिकोड एनकोडिंग में टाइप की गई हिंदी के लिए utf-8 वाला एनकोडिंग आवश्यक है।

यदि आपके स्क्रिप्ट के पीछे माईएसक्यूएल डेटाबेस हो, तो उसमें भी एनकोडिंग को utf-8 पर रखने की आवश्यकता होगी। हालांकि माईएसक्यूएल का डिफोल्ट एनकोडिंग utf-8 ही है।

जब मैं पीएचपी-माईएसक्यूएल सीख रहा था (अब भी सीख ही रहा हूं), पलही कठिनाई इन्हीं ???? की आई थी। डेटाबेस में रखी हुई हिंदी पाठ को ब्राउसर में लाने पर वह ????? में बदल जाता था। जब मैंने डेटाबेस एनकोडिंग को utf-8 किया तो हिंदी ठीक से दिखने लगी।

आप भी इसे आजमाकर देखिए। शायद आपका काम बन जाए।

Related Posts with Thumbnails