Tuesday, September 8, 2009

मेरी तरह, हर रोज नेट से Rs.1500 कमाएं , कैसे?

अब मै नेट से हर रोज कभी Rs.1500 या 2000+ तक कमा लेता हूं|

दरअसम मै पढाई से बचपन से ही भागता आया हूं और यही वजह है की मेरा नेट की तरफ झूकाव ज्यादा है और यही मेरे लिये एक पहला और आखरी रासता है|

कई महीनो से होस्टिंग साईट खोलने मे समय खराब किया हूं|

और चार दिन पहले ही मन मे आया क्यो ना प्रोफेस्नल प्रोग्रामर्स का आनलाईन टिम बनाउं?
और जूट गया काम मे, फोरम आदी मे लिखा की मूझे एक बढीया प्रोग्रामर चाहीये जो बहुत तेज हो, बढीया हो और रिप्लाई जल्दी देता हो|

फिर क्या था कई प्रोग्रामरों ने कहा मैने कई साईटें बनाई हैं आदी,.. आदी..
और लग गया उनका परीक्षा लेने|


कुछ ही देर मे बढीया बढीया प्रोग्रामर्स मिल गै और जो बहुत परेसान करते थे जैसे "पहले पैसे दो तभी काम पूरा करूंगा" उनको हटाना पडा|


फिर अगला स्टेप था प्रोजेक्टस लेना?
Scriptlance.com मे मेरा एक पूराना प्रोग्रामर का एकाउंट था जिसपर 4 प्रोजेक्टस पूरा करने के लिये फिडबैक मिले थी उससे प्रोजेक्टस पर बिड मारने लगा और हर रोज कम से कम 2-3 प्रोजेक्स मिल ही जाते हैं| और जो मै खूद कर लेता हूं वो अलग| अब उन प्रोजेक्ट को मै अपने प्रोग्रामरों को दे देता हूं और जब पूरा कर लेते हैं तो पैसे दे देता हूं(जब मूझे पैसे मिलते हैं तब उसमे से 45% पैसे उनको दे देता हूं और 55% मेरा)


होस्टिंग से?
वेब होस्टिंग से बहुत कम कमाई होती है पर 2-4 दिन या 5-6 दिन के अंदर 1-2 क्लाईंट आ ही जाते हैं|

ईबे से?
ebay.in पर अभी वेबहोस्टिंग का प्लान डाला ही था कि जल्दी से किसी ने दो प्लान खूद खरीद लिये|

फोरम और अन्य लोग जो मेरे होस्टिंग का बैनर लगा कर 40%-45% कमाते हैं और उनके द्वारा भेजे गए क्लाईंट का 55% मेरा और 45% उनका हो जाता है(ईन्स्टेंट पेमेंट)

टेम्पलेट सेलिंग?
क्या आपको पता है मै वर्डप्रेस आदी का टेम्पलेट $10 या $20 मे खरीद कर $10 वाला $20-25 मे और जो $20 का टेम्पलेट खरीदता हूं वो $30-35 में सेल कर देता हूं। (कभी कभी नूकशान भी होता है जैसे खरीदे और सेन नही कर पाए :))))

ईतने सारे तरीके अपने पर भी 1500 से 2000 ही क्यों, ज्यादा आने चाहीये ना ?
बहुत आसान बात है हर रोज 2-3 प्रोजेक्ट मिलेंगे तो और जो चिजें है उनका ठिक नही होता| और जरूरी नही होता हर रोज प्रजेक्ट मिल जाए|


ईन तरीकों को अपना कर आप भी ईतना कमा सकते हैं - Hence: Proved!
Question Solved!

4 comments :

Ratan Singh Shekhawat said...

बढ़िया है ! कमाते रहो !
क ख ग घ पर पूरा ध्यान दो !
क " कमाओ", ख "खाओ" जब कमाओ तो अच्छा खाओ , ग " गाओ" जब पेट भर जाए तो गाना गाओ मतलब मौज करो ,
घ " घर " कमाओ खाओ और गाओ से निपटने के बाद अपना घर बनाओ |

इसीलिए तो सबसे पहले क ख ग घ पढाया जाता है |

विनय ‘नज़र’ said...

बड़े जुगाड़ू हो!
---
BlueBird

राज भाटिय़ा said...

कुन्नु भाई तुम तो दो चार साल मे ही अमीर बन जाओगे, फ़िर क्या करोगे इतने पेसॊ का??

कुन्नू सिंह said...

रतन जि,
बहुत सोचने वाली बात कहे हैं आप| आज से मै क ख ग पर ध्यान दूंगा
” बहुत देर तक सोचता रहा, सच मे आपने जो कहा है वो बेमीसाल है, कोई एक चिज रट रहा हो और खूब वर्षो बाद पता चले की उसका मतलब क्या था तो हैरान ही होगा”


राज जि,
मै ये कूछ ही दिनो के लिये कर रहा हूं - जब तक खाली हूं और उसके बाद मै कंप्युटर का कोर्स करूंगा और कोई कंपनी खोज कर 15-20 हजार महीना महीना होगा|

गांव मे रहूंगा तब तो 500/m भी बहुत अधीक लगता है क्यों की घर का किराया आदी लगता ही नही है :))

Related Posts with Thumbnails